THE CURRENT SCENARIO

add

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

शनिवार, 27 जून 2020

TCS

"जब सैय्यां भये कोतवाल तो डर काहे का"...

जमकर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

माननीय नही लगाते मास्क

ब्यूरोचीफ एस.पी.तिवारी
लखीमपुर-खीरी,27 June 2020
"जब सैंया भये कोतवाल तो डर काहे का"...अपने ये कहावत अक्सर सुनी होगी...लेकिन कोरोना संकट काल मे खीरी सांसद भाजपा के स्वागत के दौरान निघासन, सिंगाही की तस्वीरों से ये कहावत पूरी तरह चरितार्थ होती दिखी, आम आदमी को प्रशासन बाखूबी सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ा रहा है,लॉकडाउन के नियमों को उल्लंघन करने पर उसके खिलाफ एफ.आई.आर दर्ज की जा रही है।
www.thecurrentscenario.com
लेकिन सत्तारूढ़ भाजपा सासंद के आगे कोई भी नियम कानून मायने नहीं रखते क्योंकि वो भाजपा सांसद हैं।आम आदमी के लिये पुलिस के आलाधिकारी जगह जगह पर मास्क और सोशल डिस्टेंसिग का पाठ पढ़ाकर जमकर चलान काट रहे हैं।क्योकि भैय्या ने मास्क नहीं लगाया है ‌लेकिन यहां सासंद जी के साथ सैकडो़ लोग इक्कठा इक्का दुक्का मास्क लगाये है क्योंकि उन्हें मालूम है।हम सांसद जी के कार्यकर्ता हैं हमारा होगा ही क्या लेकिन सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा के सांसद जी सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ाते देखे जा सकते हैं और प्रशासन मौन होकर देखता रहा।क्या यहां प्रशासन के कोई जिम्मेदारी नही थी या फिर नियम कानून आम लोगों के लिये बनाये गये हैं।
www.thecurrentscenario.com
लॉकडाउन में किसी तरह के राजनीतिक आयोजन पर गृहमंत्रालय और यूपी सरकार ने पाबंदी लगा रखी है।गाइडलाइन के मुताबिक कोई भी कार्यक्रम नही होगा लेकिन सांसद जी के लिये सब बेकार है।खुशी में माननीय इतना मशगूल हुये जो सैकड़ों लोगों को जुटना और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को ठेंगा दिखाया।शुभकामना के दौरान निघासन में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम तार-तार हो गए।इस दौरान एक साथ कार्यकर्ता अपने नेताओं के साथ पूरे जोश के साथ फोटो खींचाते हुए दिखे जिसमें तमाम कार्यकर्ता बिना मास्क लगाए नजर आए।अपने स्वागत में सासंद सदस्य को इस बात का ध्यान रखना चाहिए था कि देश के सामने जो वाइरस का संकट है जिसमें हजारों की संख्या में जनता प्रभावित है ऐसे में खुशियां मनाना उचित नहीं है यह कदम घातक साबित हो सकता है।