THE CURRENT SCENARIO

add

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

सोमवार, 22 जून 2020

TCS

विश्व संगीत दिवस पर सुनने को मिले सदाबहार नग़मे

ताहिर कमाल सिद्दीकी
इंदौर,21 June 2020
लॉक डाउन के बावजूद विश्व संगीत दिवस पर शहर के कलाकारों ने पूरे उत्साह से ऑनलाइन प्रस्तुति दी और कलाकारों ने महामारी से मुक्ति की कामना की। शहर की सिंगर सरला मेघानी ने सदाबहार नग़मे सुनाकर सभी फ़नकारों को विश्व संगीत दिवस की शुभकामनाएं दीं। इंटरनेशनल रिदम बैंड के राजेश मिश्रा गुड्डू  ने लॉक डॉउन के चलते सुरक्षा और सावधानी के साथ राधिका सभागृह में संगीत का आयोजन किया।जिसमें
सभी गायक-गायिकाओं ने अपने तय समय मे जाकर आर्केस्ट्रा के साथ अपने गीत पेश किये।जिसे फेसबुक पर लाइव किया गया।लाइव प्रोग्राम को हज़ारों संगीत प्रेमियों ने देखा। शहर की फेमस सिंगर सरला मेंघानी ने भी सदाबहार गीतों की लाजवाब प्रस्तुति दी।
जिसे बहुत सराहा गया।
इस ऑनलाइन महफ़िल में भजन,गीत,ग़ज़ल,इंस्ट्रूमेंट्ल संगीत सुनाये गए । ऑनलाइन महफ़िल में चिंतन बाकीवाला,राजेश शर्मा,कपिल पुरोहित,जयमाला लाड,विनीत वर्मा,नासिर खान,अन्नू शर्मा,सरला मेघानी,हेमा मछया,मधु मुकेश,सतीश पांडे,नुपुर कौशल,विक्रम बजाज,भूपेंद्र गिरी,संजय राठोड़,सुरभि राठोड़,सुभाष पोरवाल,बेबी कनक ठक्कर,भावेश सोनी ने प्रस्तुती दी,योगेश कुलपारे,गोविन्द लुडेरिया ने सेक्सोफोन पर शानदार पुराने नगमो की धुन प्रस्तुती दी।चिंत्तन बाकीवाला ने झूमरु से आनंद ला दिया...
पुरे आयोजन में सामजिक दूरी का पालन किया गया। हर कलाकार को सेनेटाइज किया गया,उनके माइक,साजिंदों के साज़ को भी अच्छे से सेनेटाइज किया गया। लगभग 28 गायक कलाकारों ने अलग अलग समय पर अपनी प्रस्तुति दी। लगभग 65 प्रस्तुतियाँ हुई,सुबह 7 बजे से शुरू हुआ प्रोग्राम शाम 7 बजे समापन हुआ। संचालन सतीश पांडे,राजेश यादव ने किया। संगतकार रवि सालके,गुड्डू मिश्रा,रूपक जाधव,अनूप कुलपारे,संदीप चौधरी,ने लगातार 12 घंटे सांगत की,स्वरांजलि संगीत मंदिर से फेसबुक पर लाइव शो हुआ जिसे तक़रीबन 15 हज़ार से अधिक लोगों ने दिखा। कार्यक्रम संयोजक राजेश मिश्रा गुड्डू ने बताया
गणेश वंदना,सरस्वती वंदना,
मधुबन ख़ुश्बू देता है,खिलते हैं गुल यहां,ख़वाब हो या तुम,
ये आँखे देखकर,शीशा हो या दिल,दीवानो से मत पूछो,
होले होले साजन,तेरे बिना जिंदगी,नीले नीले अम्बर
झुमरू,दिल की नज़र से,
बाहों में चले आ गानों की प्रस्तुति को पसंद किया गया।
पिछले कई वर्षो से राजेश मिश्रा निरंतर यह आयोजन करते आ रहे हैं और उसकी अपनी लोकप्रियता है।