THE CURRENT SCENARIO

add

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

मंगलवार, 14 अप्रैल 2020

Burhanpur

इंदौर के धार्मिक विद्वान मौलाना वलीउल्लाह का निधन

 मेह लका अंसारी
बुरहानपुर,14 April 2020
इंदौर के पत्रकार ताहिर कमाल सिद्दीकी एवं अल फारुक युनानी मेडिकल कॉलेज इंदौर के प्रोफेसर डॉक्टर आसिम सिद्दीकी के पिताश्री मुफ्ती मालवा मौलाना वली उल्ला सिद्दीकी नदवी का अल्प बीमारी के बाद आज इंदौर में निधन हो गया। ईल्मी व अदबी एतबार से उनका शुमार इंदौर के बड़े  धार्मिक उलेमाओं में होता था। वे इंदौर के  रानीपुरा स्थित कच्ची मस्जिद के पेश इमाम होने के साथ साथ मुफ़्ती-ए-मालवा के अलावा एक प्रभावशाली शख्सियत के मालिक थे। वे एक  यूनानी हकीम (वैद्य)भी थे।यूनानी के क्षेत्र में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री महेंद्र हार्डिया के हाथों उन्हें लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड के अलावा कई सम्मान उन्हें मिले।दौलत गंज एकता पंचायत की स्थापना और हिन्दू मुस्लिम एकता व भाईचारे के लिए भी उन्होंने महत्वपूर्ण योगदान दिया। उनके निधन का समाचार मिलते ही प्रदेशभर के मुसलमानों में शोक छा गया है। इंदौर के आजाद नगर कब्रस्तान में उन्हें सुपुर्दे खाक किया जाए।
बुरहानपुर के वरिष्ठ मुफ्ती  मोहम्मद अली क़ासमी, काज़ी ए शरीयत बुरहानपुर मुफ़्ती रहमतुल्लाह क़ासमी , मुफ़्तीअंसार अहमद कासमी,मोलवी नदीम बैग, मोलवी जावेद क़ासमी , डाक्टर मौलाना हाफिज सलीम नदवी गिन्नौरी, सय्यद यूसुफ अली, जिला हज कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष हाजी मतीन अजमल, वरिष्ठ यूनानी चिकित्सक एवं युनानी तिब्बिया महाविद्यालय एवं चिकित्सालय रायपुर के प्रोफेसर डॉक्टर महमूद खान, हर्फ हर्फ आईना सोसाइटी बुरहानपुर के अध्यक्ष इकबाल अंसारी आदि ने उनके निधन पर बुरहानपुर की ओर से शोक व्यक्त करते हुए उनके निधन को समाज के लिए एक अपूरणीय क्षति बताया है ।