THE CURRENT SCENARIO

add

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

रविवार, 19 जनवरी 2020

Scam

करोड़ों के घोटाले में फंसी पिपरझला प्रधान को बचाने में जुटे जांच अर्ध एवम् संख्या अधिकारी

 ग्रामीणों की शिकायत पर डीएम खीरी ने दिए थे 9 अक्टूबर को जांच के आदेश

एस.पी.तिवारी/नित्यानंद बाजपेयी 
लखीमपुर-खीरी
जनपद खीरी के विकास खण्ड मितौली की ग्राम पंचायत पिपरझला को सरकार से आए लगभग तीन करोड़ से ऊपर की धनराशि में भारी गड़बड़झाला किया गया।कागजों पर काम दिखाकर व कागजों मे सामग्री खरीदने के नाम पर करोड़ों रुपए का निजी हित में प्रयोग कर लिया गया।

कागजों पर कई खडज्जो का निर्माण दिखाया गया जबकि आज भी खड़ंजा नहीं लगा है।घोटाले में अगर गौर किया जाए तो लाभार्थियों से पैसा लेकर पहले से आवास पाए व साधन संपन्न लोगों को आवास का लाभ देकर पात्रों के हको पर डाका डाला गया।भ्रष्टाचार से आहत ग्रामीणों ने जब 10 बिंदुओं पर आधारित शिकायत जिलाधिकारी खीरी से की थी।जिसमें डी.एम खीरी ने अर्थ एवम् संख्या अधिकारी (बी) को जांच अधिकारी नामित करते हुए 15  दिनों में जांच रिपोर्ट मांगी थी।यह आदेश जिलाधिकारी खीरी ने 9 अक्तूबर 2019 को पारित किया था लेकिन आरोपी ग्राम प्रधान पिपरझला  से मिली भारी रिश्वत राशि के चलते आज डीएम खीरी के आदेश के चार माह बाद भी जांच नहीं की गई।
घोटालेबाज प्रधान व पंचायत सचिव को बचाने की नियत से जांच अधिकारी बगैर जांच किये हुए मामले की लीपापोती करने का प्रयास करने में लगे दिखाई पड़ रहे हैं।शिकायत कर्ता द्वारा कई प्रार्थना पत्र  डीएम से लेकर सीएम समेत शासन स्तर तक दिये गये पर जिले के चल रही अफसर शाही के चलते जिलाधिकारी का आदेश धूल फाकते दिखाई पड़ रहा हैं।प्रशासन की लापरवाही व खाऊ कमाऊ नीति के चलते जांच प्रभावित किए जाने से आहत शिकायतकर्ता सतीश कुमार पुत्र  अवधेश कुमार ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र प्रेषित कर आरोपियों गणों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराए जाने व डीएम खीरी के आदेश को दरकिनार कर जांच न करने वाले जांच अधिकारी के विरुद्ध भी विधिक कार्यवाही कराए जाने की बात कही है।


इस बाबत मे जब जिलाधिकारी खीरी शैलेन्द्र सिंह से जानकारी चाहने का प्रयास किया गया तो उनका फोन सचिव ने उठाया और बताया साहब आवास मे है एक घण्टे बाद जब साहब बैठेगे तक आपकी वार्ता करायेगे।