World News

इस्राईल और हिज़्बुल्लाह में संभावित युद्ध का ख़तरा, हिज़्बुल्लाह का हाई अलर्ट, सीमा पर जवानों की संख्या बढ़ाई

Sajjad Ali Nayane
TCS,29 Oct 2020

हिज़्बुल्लाह ने दक्षिणी लेबनान में हाई अलर्ट घोषित कर दिया।

लेबनान-24 वेबसाइट ने जानकार सूत्रों के हवाले से बताया है कि हिज़्बुल्लाह ने अपने जवानों को दक्षिणी लेबनान में हाई अलर्ट कर दिया है।

www.thecurrentscenario.com

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार लेबनान के जानकार सूत्रों ने हिज़्बुल्लाह के जवानों के हाई अलर्ट होने की सूचना दी है।

लेबनान-24 वेबसाइट ने जानकार सूत्रों के हवाले से बताया है कि हिज़्बुल्लाह ने पूरे देश में विशेषकर दक्षिणी क्षेत्रों में तैयारी के स्तर को बढ़ा दिया है।

जानकार सूत्रों ने बताया है कि इस्राईली सैनिकों के सैन्य अभ्यास के समय ही हिज़्बुल्लाह ने अपने जवानों को भी अलर्ट कर दिया है। इस्राईली सेना का सैन्य अभ्यास गुरुवार को समाप्त होगा।

उक्त जानकार सूत्रों ने बताया है कि हिज़्बुल्लाह ने अपने जवानों की बड़ी संख्या को सीमावर्ती क्षेत्रों में बुला लिया है ताकि इस्राईल के किसी भी संभावित हमले का जवाब दिया जा सके।

सूत्रों का कहना है कि इस्राईली प्रधानमंत्री इस संवेदनशील चरण में सैन्य अभ्यास के बाद संभावित रूप से कोई कार्यवाही कर सकते हैं।

दूसरी ओर इस्राईली सेना, हिज़्बुल्लाह के नक़ली ठिकानों का निर्माण करके, बड़े पैमाने पर युद्ध अभ्यास कर रही है।

कई दिनों तक चलने वाला यह युद्ध अभ्यास, जिसे “डेडली एरो” नाम दिया गया है, रविवार से शुरू हुआ है।

इस्राईली सेना ने इस वर्ष अब तक के सबसे बड़े युद्ध अभ्यास की योजना बनाई थी, कोरोना वायरस महामारी के चलते, इसका स्तर काफ़ी कम कर दिया गया है।

इस्राईली सेना का कहना है कि युद्ध अभ्यास में उत्तरी क्षेत्र को नज़र में रखकर मुख्यालय और कमांड सेंटर स्थापित किए गए हैं और युद्ध की स्थिति में संपर्क और संचार करने पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

बयान में कहा गया है कि इस युद्ध अभ्यास का एक मक़सद, सेना के हमले की क्षमता में सुधार करना और युद्ध के सभी तरीक़ों का परीक्षण करना है।

TCS

Related Articles

Back to top button
Close