THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Wednesday, June 3, 2020

TCS

कोरोना वायरस जंग से देश को मिली बड़ी कामयाबी-अकरम

कोरोना वारियर्स के रूप में पत्रकार की अहम भूमिका

चौकी इंचार्ज बिरसिंहपुर ने पत्रकारों को गमछा मास्क भेंटकर किया सम्मानित

संजय सिंह
सुलतानपुर,04 June 2020
आपसी भाईचारा बना रहे, वैश्विक महामारी की जंग में चिकित्सको के अलावा पुलिस का सराहनीय योगदान होने के बाद, भारत को कोरोनावायरस की जंग में कामयाबी हासिल हुई। इस कामयाबी का श्रेय अकेले नहीं बल्कि देश और दुनिया के चौथे स्तंभ ने अपनी अहम भूमिका निभाई है। जयसिंहपुर कोतवाली क्षेत्र स्थित बिरसिंहपुर चौकी इंचार्ज मोहम्मद अकरम खान ने पत्रकार सम्मान कार्यक्रम उपरोक्त बातें कही।
www.thecurrentscenario.com
बिरसिंहपुर चौकी इंचार्ज मोहम्मद अकरम ने क्षेत्र की पत्रकारों संबोधित करते हुए कहा कि पत्रकार भी इस महामारी की लड़ाई में अपनी आम भूमिका निभाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि देश दुनिया के बाहर के लोगों पर कोविड-19 महामारी का प्रभाव कितना तेजी से बढ़ रहा है इससे हम भारतीयों को सचेत रहने की जरूरत है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की गाइडलाइन को पत्रकारों ने तथ्य पूर्वक लोगों के बीच में पहुंचाने का महत्वपूर्ण काम किया है, जो इस महामारी  से लोगों को सुरक्षित रहने व उनसे बचाव के सही रास्ते जानने में आसानी हुई है। महामारी के संकट के अंतिम पड़ाव पर ये पत्रकार अपनी जान की परवाह किए बगैर लाकडाउन जैसे समय में खबरों का संकलन करते रहे।
 कोरोना वारियर्स के तौर पर क्षेत्रीय पत्रकारों को मास्क वह गमछा देकर सम्मानित किया। सम्मानित हुए पत्रकार मे संजय सिंह, दुर्गा प्रसाद, रोहित पाठक, अभिषेक गुप्ता, बाबा श्रीवास्तव, आदि पत्रकार सामिल रहे। वरिष्ठ पत्रकार संजय सिंह ने कहा कि हमारे स्वास्थकर्मी, पुलिस और सफाई कर्मी, आशाबहू, आदि सभी ने अपना घर परिवार मां-बाप को छोड़कर जनता की सेवा करने कर बड़ा ही गौरव प्राप्त हुआ है। श्री अकरम ने आमजन से अपील की है कि जिस तरह कोरोनाकाल में जनता ने कॉलडाउन का पालन किया उसी तरह सरकार की गाइडलाइन के अनुसार लोगों को अब मास्क लगाना अपने जीवन मे अनिवार्य करना होगा। अपने हाथों को बार-बार साबुन व हैण्डवास से धुलते रहना होगा। एक दूसरे के बीच एक मीटर की दूरी बना कर अपना जीवन सुरक्षित किया जा सकता है।