THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Monday, June 1, 2020

World Scenario

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लेनी पड़ी बंकर में शरण

व्हाइट हाउस के बाहर फिर प्रदर्शन, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले

TCS News Network 
2 June 2020
अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत के खिलाफ अमेरिका में उबाल थमने का नाम नहीं ले रहा. आज प्रदर्शनकारियों ने एक बार फिर व्हाइट हाउस के बाहर धावा बोला. हालांकि उनसे निपटने के लिए भारी संख्या में पुलिस और घुड़सवार दस्ते के जवान मौजूद थे.प्रदर्शनकारी लगातार नारेबाजी कर रहे थे और आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे थे.
प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस की ओर से आंसू गैस के गोले छोड़े गए. कल भी व्हाइट हाउस के बाहर इसी तरह का उग्र प्रदर्शन हुआ था और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को बंकर में शरण लेनी पड़ी थी.इस तरह का प्रदर्शन न्यूयॉर्क में भी हुआ है. प्रदर्शनकारियों ने न्यूयॉर्क सिटी के मशहूर टाइम्स स्क्वेयर पर भी प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों की भीड़

को देखते हुए शहर में रात 11 से लेकर सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया गया है.गौरतलब है कि 25 मई के मिनेसोटा में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत हुई थी. महज 20 डॉलर के जाली नोट चलाने के आरोप में जॉर्ज को पकड़ा गया था और एक पुलिस वाले ने उसे जमीन पर गिराकर उसकी गर्दन को पांव से तब तक दबाए रखा जब तक उसकी मौत नहीं हो गई.इसी घटना से अमेरिका में भारी
उबाल है. ना सिर्फ अश्वेत समुदाय के लोग बल्कि श्वेत भी इसे लेकर सड़कों पर हैं. इस बीच, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रदर्शनकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि जो लोग दूसरों की जिंदगी खतरे में डालेंगे उनसे सख्ती से निपटा जाएगा.गौरतलब है कि 25 मई के मिनेसोटा में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत हुई थी.
महज 20 डॉलर के जाली नोट चलाने के आरोप में जॉर्ज को पकड़ा गया था और एक पुलिस वाले ने उसे जमीन पर गिराकर उसकी गर्दन को पांव से तब तक दबाए रखा जब तक उसकी मौत नहीं हो गई.इसी घटना से अमेरिका में भारी उबाल है. ना सिर्फ अश्वेत समुदाय के लोग बल्कि श्वेत भी इसे लेकर सड़कों पर हैं. इस बीच, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रदर्शनकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि जो लोग दूसरों की जिंदगी खतरे में डालेंगे उनसे सख्ती से निपटा जाएगा.