THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Wednesday, June 17, 2020

TCS

अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश संगठन महामंत्री रवींद्र त्रिपाठी की अगुवाई में लंभुआ दियरा सड़क की वदहाली को लेकर दिया माँग पत्र

सजंय सिंह
सुल्तानपुर,18 June 2020
 ज़िलाधिकारी सुल्तानपुर महोदया के नाम का माँग पत्र मुख्य राजस्व अधिकारी को दिया ।ज़िलाधिकारी महोदया वार्ता कर उनके वाटसप पर भी मांग पत्र भेजा गया ज़िलाधिकारी महोदया ने संज्ञान लिया है।माँग पत्र में व्यापारियों ने लिखा है कि
www.thecurrentscenario.com
महोदया सादर अवगत कराना है कि लंभुआ से दियरा मार्ग लगभग १२ किलोमीटर लंवी है यही सड़क आगे जाकर सुलतानपुर वलिया मार्ग में जुडती है और इसी सड़क से ऐतिहासिक तीर्थ स्थल धोपाप की सड़क भी आगे जाकर ७ किलोमीटर पर निकली है ।महोदया इस सड़क का निर्माण २०१६ के अंत मे में हुआ था और बनने के एक माह के भीतर ही सड़क टूटने लगी जिस पर कई बार शिकायत हुई पर पर ठेकेदार पर कोई कार्रवाई या गुणवत्ता की जाँच नहीं हुई केवल गड्ढों की पैचिंग कर दी गई फिर टूटी फिर पैचिंग हुई यह शिलशिला तीन वर्षों से चलता रहा ।
www.thecurrentscenario.com
महोदया इस समय यह सड़क के बजाय धान रोपने वाला खेत लगता है हल्की वारिश मे इस सड़क की स्थिति इतनी ख़राब हो गई हैकि कई लोग दुर्घटना ग्रस्त हो गये हैं।
इस सड़क से १०-१२ ज़िलों के व्यापारी, किसान व अन्य लोग पैदल , साइकिल,मोटरसाइकिल, कार व अन्य चार पहिया वाहनो से प्रति दिन कई हज़ार लोग आते -जाते हैं और कुछ सरकारी व ग़ैर सरकारी बसों का भी आवागमन होता है कुल मिलाकर कर बहुत आवा-गमन वाली सड़क है और इसकी हालत बहुत ही ख़राब है ।आये दिन दुर्घटना से लोग घायल हो रहे हैं यदि इसका तत्काल मरम्मत या पन: निर्माण न हुआ तो बड़ी-बड़ी दुर्घटनायें होना तंय है ।
अत: आपसे निवेदन है कि इस सड़क की तुरंत मरम्मत करवाने की कृपा करते हुए पूर्व मे वनी सड़क की गुणवत्ता की जाँच के लिए कमेटी गठित करके जाँच करवाकर घटिया निर्माण के ज़िम्मेदारों पर वैधानिक कार्रवाई करवाते हुए सड़क के पुन: निर्माण की कार्रवाई करने की कृपा करें ।माँग पत्र देने वालों में ज़िला प्रभारी अनूप श्रीवास्तव, सदर तहसील अध्यक्ष हिमांशु मालवीय लंभुआ तहसील अध्यक्ष शिव शंकर अग्रहरी महामंत्री नियाज राइन रहे ।