THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Wednesday, June 24, 2020

TCS

कागजी बिद्यालय खोलकर करोड़ो  रुपये के छात्रबृत्ति के गवन के आरोपी पर जिले के अधिकारी मेहरबान

करोड़ो के घोटाले में जिले के अधिकारी बोलने को क्यों नही है तैयार कही सत्ता का दबाव तो नही

जिलाधिकारी से लेकर तहसील दिवस तक की गयी सैकड़ों शिकायत नही मिला कोई जबाब

जांच रिपोर्ट में शिकायत सही  पाये जाने  के बाद भी  कार्यवाही करने से कतरा रहे है जिला बेसिक शिक्षा बिभाग के अधिकारी

संजय सिंह/भूपेन्द्र सिंह
सुलतानपुर,24 June 2020
जहां एक तरफ सूबे के  मुख्यमंत्री जी भ्रष्टाचार पर जीरो टैरेन्ट पर काम करने का डंका पीट रहे है वही दूसरी तरफ सुलतानपुर जनपद के लम्भुआ तहसील के अन्तर्गत कोथराकला निवाशी संतोष कुमार सिंह  कागज में स्कूल खोलकर  करोडों रूपये का अल्पसंख्यक बिभाग की छात्राबृत्ति गमन कर ली गयी।

 मामला रामरती सिंह जूनियर हाईस्कूल कोथराकला का है सन 2007 से संतोष कुमार सिंह  प्रबंधक द्वारा कागज पर रामरती सिंह जूनियर हाई स्कूल खोलकर अल्पसंख्यक विभाग से करोड़ो की छात्राबृत्ति का गबन कर लिया गया  फर्जी स्कूल खोलकर रुपया गबन  करने की  शिकायत शत्रुघ्न  सिंह द्वारा जिलाधिकारी से की गयी जिसकी जाँच जिलाधिकारी द्वारा करवायी गयी जाँच में शिकायत सही पायी गयी जिसकी  जांच रिपोर्ट भी 2018 में आ गई लेकिन जिले के अधिकारी लगातार दो वर्ष से गबन कर्ता के खिलाफ कार्यवाही करने से कतरा रहे है।
गौरतलब हो कि जब जाँच अधिकारी ने स्पस्ट कर दिया कि इस नाम का कोथराकला में न तो कोई विद्यालय कभी संचालित हुआ और न आज संचालित हो रहा है।सिर्फ कागज में अल्पसंख्यक बच्चों के काल्पनिक नाम बनाकर छात्र संख्या भेजकर अल्पसंख्यक विभाग के मिली भगत से करोड़ो का घोटाला हुआ। सबसे चौकाने वाली बात यह है कि इस नाम का विद्यालय कोथराकला में कभी संचालित नही हुआ और मृतक सरोज सिंह को प्रधानाध्यापक बनाकर  उन्ही सरोज सिंह का फर्जी हस्ताक्षर बनाकर जगह जगह पत्राचार किया गया और उन्ही के हस्ताक्षर से करोड़ो रूपये का लेनदेन किया गया।जाँच समिति ने अपनी रिपोर्ट भी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को प्रेषित कर दिया लेकिन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आरोपी को बचाने में लगे हुए है।इससे साफ स्पस्ट हो रहा है कि कार्यवाही न होने के पीछे कही कोई राजनैतिक  कारण तो नही ।
www.thecurrentscenario.com