THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Tuesday, June 16, 2020

TCS

लॉक डाउन के 72 दिन
मिली छूट तो बन गए 1134 आवास

बीमारी से बचने की एहतियात से करते रहे काम, गरीबों को मिला मकान


ब्यूरोचीफ पंकज शर्मा
धार,16 June 2020
जीवन की भागदौड़ एक आशियाने के लिए होती है और गरीबों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना आशियाने का एक बड़ा वरदान है. यूं तो कोरोनावायरस के कारण पूरे विश्व में हलचल मची हुई है, जिसका प्रभाव भारत में भी बड़े स्तर पर नजर आ रहा है. लेकिन आवास की आस में गरीब ने अपने क्षेत्र में इस महामारी को पछाड़ रखा है. महामारी से बचने के लिए 23 मार्च से लॉक डाउन शुरू हुआ, जो कुछ शर्तों के साथ 31 मई को समाप्त हुआ. लॉक डाउन दरमियान ग्रामीण इलाकों में मिली छूट में धार जिले में एक हजार134 आवास तैयार हो गए. मतलब 1134 परिवारों के सदस्यों के रहने का माकूल इंतजाम हो गया.
www.thecurrentscenario.com
पीएम आवास योजना के तहत इनके निर्माण के दौरान महामारी के प्रभाव को देखते हुए इससे बचने के तरीके बताए गए और काम करने वाले कर्मचारियों का ध्यान भी रखा गया. यही कारण है कि 2 जून तक पूरे जिले में पीएम आवास योजना की एक हजार 134 आवास तैयार हो सके.
www.thecurrentscenario.com
पहले नंबर पर बाग
www.thecurrentscenario.com

प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रभारी अधिकारी के अनुसार बाग जनपद क्षेत्र में 336 आवास तैयार हो गए हैं. इसके अलावा उमरबन जनपद क्षेत्र में 217, डही जनपद क्षेत्र में 160, गंधवानी जनपद में 115 तथा सरदारपुर जनपद क्षेत्र में 113 आवास बन चुके हैं. बताया जा रहा है कि वार्षिक टारगेट के आधार पर तिरला और नालछा जनपद क्षेत्र इस मामले में पिछड़े हुए हैं।