THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Friday, June 19, 2020

TCS

ऊंची सोच इंसान को बेहतर बनाती है - डॉ खराड़ी

ब्यूरोचीफ रहीम शेरानी
झाबुआ,19 June 2020
राणापुर कोरोना की इस भयावह स्थिति में पूरे तीन माह का समय राणापुर की जनता ने प्रशासन के निर्देशों का पालन कर एक अनूठा उदहारण पेश किया है,
और इसी का परिणाम है, कि शहर में कोरोना कदम भी न रख पाया।
www.thecurrentscenario.com
में राणापुर के तमाम नागरिक, स्वास्थ्य, सुरक्षा और सेवा में लगे लोगो का धन्यवाद ज्ञापित करता हु।
उक्त उदगार अनुविभागीय अधिकारी डॉ अभयसिंह खराड़ी ने एक समारोह में व्यक्त किये। श्री खराड़ी ने कहा कि युवावस्था की दहलीज पर कदम रखते बेटे अवि सुरेश ने अपना जन्मदिन योद्धा, सजग प्रहरी और कर्मवीरों का सम्मान समारोह करके मनाया। वास्तव में ऊँची सोच इंसान को बेहतर बनाती है।
युवा कवि और श्री राजेंद्र जैन परिषद के शाखा प्रवक्ता अवि सुरेश ने अपना जन्मदिन इस आपदा में शहर के लगभग 50 से ज्यादा लोगो का शाल ओढ़ाकर मनाया। स्थानीय गीता भवन में आयोजित सम्मान समारोह में अतिथि के रूप में पधारे डॉ अभय खराड़ी, तहसीलदार रविंन्द्र चौहान, सी ई ओ जोसुआ पीटर, गम्भीरमल राठी, मनोहर सेठिया, गोपाल हरसोला, सी एम ओ श्री बारचे ने श्री कृष्ण भगवान की प्रतिमा और श्री जयंतसेन सूरिजी के चित्र पर माल्यार्पण किया।
अतिथियों का सम्मान जानकीलाल सकलेचा, सौ ज्योति सुरेश, अवि सकलेचा, मितिन सकलेचा, विनोद पंचाल, मयंक राठी दीपक पंचोली ने किया।
डॉ गनपत चौहान,डॉ उषा गहलोत, शहर के युवा व्यक्तित्व रविंन्द्र नायक, मेहमुद जकरिया, वसीम भाई,व्यापारी लिलेश हरसोला, नावेद रजा, समाज सेविका रमाकांता माहेश्वरी, युनुस बोहरा, नितेश शाह, चित्रांक वैरागी आदि 50 व्यक्तित्वों का  सम्मान किया गया। तहसीलदार, सी ई ओ, मनोहर सेठिया गोपाल हरसोला ने भी अवि को जन्मदिन की बधाई देते हुए आयोजन को अनूठा प्रयास बताया।
आजाद साहित्य परिषद की और से भी युवा कवि अवि का गणेश उपाध्याय, शरत शास्त्री और प्रकाश त्रिवेदी ने सम्मान किया।

समारोह में रणछोड़ राठौड़, महेश हरसोला, शाखा परिषद के अध्यक्ष राजेश जेंन, राजेंद्र माहेश्वरी, नरेन्द्र ठाकुर, किशन अरोड़ा, माधव सोनी, गौतम सकलेचा, जनक, श्रेयांस, निकुंज राठी आदि उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन सो यशी शाह ने किया, आभार माना गम्भीरमल राठी ने। अंत में कार्यक्रम के संयोजक सुरेश समीर ने भारत चीन सीमा पर शहीद सेनिको को श्रद्धांजली अर्पित करवाई।