THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Friday, June 26, 2020

Burhanpur

सभी प्रकार की दुकान प्रतिष्ठान के संचालन के संबंध में कलेक्टर ने जारी किया आदेश

ब्यूरोचीफ मेहलका अंसारी
बुरहानपुर,27 June 2020
गृह मंत्रालय भारत सरकार, नई दिल्लीं एवं प्रमुख सचिव गृह विभाग मंत्रालय वल्लभ भवन भोपाल के परिपत्र के अनुसार कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण एवं बचाव हेतु कंटेनमेंट जोनों में लॉकडाउन को दिनांक 30/06/2020 तक बढाने और निषिद्ध गतिविधियों को कंटेनमेंट जोनों से बाहर चरणबद्ध तरीके से फिर से शुरू करने के निर्देश जारी किये गये है।
  उक्त निर्देशों के परिपालन में बुरहानपुर जिले में लॉकडाउन दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 आगामी आदेश तक प्रभावशील है। नगर पालिक निगम, बुरहानपुर की सीमाक्षेत्र में वर्तमान में दुकान/प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति दी गई है। कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिये सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अन्य सावधानियां बरतने की आवश्यदकता है। इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए दिनांक 25 जून, 2020 को जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में निर्णय अनुसार बुरहानपुर नगर पालिक निगम की सीमाक्षेत्र में स्थित सभी प्रकार की दुकान/प्रतिष्ठानों को प्रातः 6 बजे से रात्रि 8 बजे तक प्रत्येक रविवार छोडकर खोलने संबंध में आदेश जारी किया है।
बुरहानपुर नगर पालिक निगम की सीमाक्षेत्र में स्थित सभी प्रकार की दुकान/प्रतिष्ठान निम्नानुसार शर्ताे के अधीन खुलेगेंः-
 कन्टेेनमेंट एरिया के अंतर्गत आने वाले समस्त दुकान/प्रतिष्ठान बंद रहेंगे, सिर्फ कंटेनमेंट एरिया के बाहर स्थित दुकान/प्रतिष्ठान ही खोलने की अनुमति होगी। सभी दुकान/प्रतिष्ठान पर कार्यरत व्यक्ति तथा आगंतुकों द्वारा अनिवार्यतः हर समय निम्न, सावधानियों का पालन किया जाना होगा।
1. सार्वजनिक स्थानों पर, जहॉ तक संभव हो, आपस में 6 फीट की दूरी रखना होगी।
2. पर्याप्त मात्रा में हैण्डवॉश, सेनेटाईजर रखना व चेहरे को मास्क/फेसकवर से ढांकना अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करना होगा।
3. देखने में गंदे न होने पर भी साबुन एवं पानी से बार बार 40-60 सेकंड तक हाथ धोए जाये अल्कोहल युक्त सेनेटाईजर से (कम से कम 20 सेकंड तक) हाथों को सेनेटाईज करने की सुविधा, जहा उपयुक्त हो, उपलब्ध रखना होगा।
4. श्वसन एटीकेट्स का कडाई से पालन करना, छींकते/खांसते समय मुंह को रूमाल/ टिश्यू पेपर/कोहनी से ढांके, उपयोग किये गये टिश्यू पेपर का ठीक से निस्तारण सुनिश्चित करना होगा।
5. स्वयं के स्वास्थ्य की निगरानी करना, बीमारी के लक्षण होने पर तत्काल जिले की हेल्पलाईन पर संपर्क करना होगा।
6. थूकना सर्वथा वर्जित हैं।
समस्त दुकान/प्रतिष्ठान को यह सुनिश्चित करना होगा
1. प्रवेश द्वार पर हैण्ड हायजीन के लिये सेनेटाइजर डिस्पेन्स अनिवार्य रूप से उपलब्ध रखना होगा।
2. लक्षण रहित व्यक्तियों (सर्दी, खांसी, बुखार आदि न होने पर) को ही परिसर में प्रवेश की अनुमति रहेगी।
3. मास्क/फेसकवर पहनने पर ही प्रवेश की अनुमति होगी।
4. कोविड-19 संक्रमण से बचाव संबंधी प्रसार सामग्री का प्रदर्शन प्रमुखता से करना होगा। ऑडियो एवं वीडियों क्लिप द्वारा बचाव संबंधी सावधानियों का प्रसारण बार-बार सुनिश्चित करेगें।
5. परिसर के अंदर अथवा बाहर संचालित दुकान/स्टॉल/कैफेटेरिया में सोशल डिस्टेपसिग का पालन 24×7 सुनिश्चित करना होगा।
6. सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिये कतार की लाईन में गोले के निशान बनवाना होगा।
7. संभव होने पर प्रवेश एवं निकास द्वार पृथक रखना होगा।
8. प्रवेश के लिये कतार में कम से कम 6 फीट की दूरी सुनिश्चित करना अनिवार्य होगा।
9. दुकान/प्रतिष्ठान में प्रवेश के पूर्व आगन्तुकों द्वारा साबुन एवं पानी से हाथ एवं पैर का धोना सुनिश्चित करना अनिवार्य होगा।
10. अधिक भीड़/बडी संख्या में लोगों का एकत्रित होने की अनुमति नहीं होगी।
11. दुकान/प्रतिष्ठान की सफाई व्यवस्थाएं रखना, टॉयलेट/बाथरूम एवं हाथ पैर धोेने के स्थान पर सफाई रखना होगा।
निम्नानुसार दुकान/प्रतिष्ठान इत्यादि खुलने पर प्रतिबंध यथावत रहेगा-
1. सिनेमागृह, मल्टीप्लेक्स सिनेमा गृह, व्यवसायिक मॉल।
2. समस्त मैरेज गार्डन, मैरेज हॉल एवं सामुदायिक भवन।
3. मंडी क्षेत्र में चिल्लर सब्जी विक्रय प्रतिबंधित रहेगा। फूटकर विक्रेता अपनी सब्जी/फल ठेले पर फेरी लगाकर विक्रय कर सकेगें।
4. हाट-बाजार पूर्णतः बंद रहेगें।
5. प्रत्येक दुकान/प्रतिष्ठांन को नगर पालिक निगम बुरहानपुर से नियमानुसार ट्रेड लायसेंस अनिवार्य रूप से प्राप्त करने के उपरांत ही व्यवसाय करना होगा।
 किसी व्यक्ति द्वारा उक्त आदेश का उल्लघंन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51 से 60 के प्रावधानों के तहत कानूनी कार्यवाही के साथ आईपीसी की धारा 188 और अन्य कानूनी प्रावधान लागू होते हैं, जिसके तहत कार्यवाही की जाएगी।