THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Sunday, May 24, 2020

TCS

जयस की मांग एकलव्य आदर्श  आवासीय संस्थाओं मे जिले के मेरिट धारी छात्रों को मिले प्राथमिकता l

ब्यूरोचीफ रहीम शेरानी
झाबुआ,24 May 2020
जय आदिवासी युवा शक्ति  संगठन(जयस ) ने अब आदिवासी शिक्षण संस्थाओं में भी पारदर्शिता लाने व एकलव्य आदर्श आवासीय संस्थाओं में चयन प्रक्रिया के द्वारा चयनित छात्रों में सबसे पहले जिले के मेरिट धारी छात्रों को प्राथमिकता देने की मांग की है जयस का कहना है अभी एकलव्य आदर्श आवासीय संस्थाओं में चयन की प्रक्रिया चल रही है सरकार की नीति के अनुसार दूसरे जिले के मेरिट धारी छात्र मध्य प्रदेश के किसी भी जिले में मेरिट लिस्ट के आधार पर एकलव्य आदर्श आवासीय संस्थाओं में चयनित किए जा रहे हैं सरकार की इसी गलत नीति के कारण इन आवासीय संस्थाओं में प्रवेश पाने वाले छात्रों को अपना गृह जिला छोड़कर अन्य जिलों की एकलव्य आदर्श आवासीय संस्थाओं में चयनित होने के कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है
www.thecurrentscenario.com
झाबुआ जयस के मीडिया प्रभारी दिनेश वसुनिया ने बताया की  मध्य प्रदेश में सरकार ने लगभग  हर जिले व तहसील में एकलव्य आदर्श आवासीय स्कूलों व संस्थाओं को संचालित कर रखा है तो सबसे पहले वहां के ग्रह जिले के छात्रों को मेरिट के आधार पर चयन में प्राथमिकता मिले l
www.thecurrentscenario.com
ताकि जिले में ही मेरिट लिस्ट  बने और स्थानीय गृह जिलों के छात्रों को इन संस्थाओं में प्रवेश  का लाभ मिल सके l
उसके बाद अगर सीटें बचती है तो अन्य जिलों व तहसीलों के मेरिट धारी छात्रों को संस्थाओं में प्रवेश दे l
जिले की मेरिट लिस्ट बनने से स्थानीय छात्रों को एकलव्य आदर्श आवासीय संस्थाओं का लाभ मिल सके और वे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकें !