THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Thursday, May 28, 2020

TCS

समाजसेवी रमेश बाबू कदम ने तीन महीने का बिजली और स्कूल फीस माफ करने की सीएम योगी से की अपील 

Avdhesh Yadav✍️
आगरा,28 May 2020
समाजसेवी रमेश बाबू कदम ने तीन महीने का बिजली और स्कूल फीस माफ करने की सीएम योगी से अपील की हैं।समाजसेवी रमेश बाबू कदम ने बताया कि कोरोना महामारी में करीब दो महीने से ऊपर का लॉकडाउन हो चुका है। सभी काम बंद पड़े हैं।ऐसे में चाहे जुता कारीगर, किसान, व्यापारी, छात्र, मजदूर या सामान्य कोई भी निवासी हो वह आर्थिक परेशानी के दौर से गुजर रहा है। गरीबो पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा हैं। प्रधानमंत्री मोदी जी के आर्थिक पैकेज में वित्त मंत्री के द्वारा निजी बिजली कंपनियों को आर्थिक पैकेज की

घोषणा की है। हम किसी भी कंपनी या इंडस्ट्री को आर्थिक पैकेज का इस समय में किसी प्रकार का कोई विरोध नहीं कर रहें लेकिन जब पूरे उत्तर प्रदेश के किसी भी प्रकार के बिजली उपभोक्ता को बिजली का बिल माफ करने के लिए सरकार का आर्थिक पैकेज में कोई प्रावधान नहीं है,तो यह पैसे किस उद्देश्य से दिया गया है। यह समझ से परे है।आर्थिक पैकेज में पैसा दिया जाना चाहिए। हम इसका समर्थन करते हुए सरकार से यह मांग करते हैं कि कम से कम तीन माह का उत्तर प्रदेश के सभी बिजली उपभोक्ता चाहे वह ग्रामीण क्षेत्र, शहरी क्षेत्र या नगरीय क्षेत्र के हो उन उपभोक्ताओं के बिजली के बिल सत प्रतिशत माफ करने चाहिये। लॉकडाउन के दौरान सभी प्रतिष्ठान जैसे कार्यालय, कंपनी,शिक्षण संस्थाए,क्लीनिक, नर्सिंग होम,हॉस्पिटल आदि के तीन माह के विद्युत बिल सरकार को माफ़ करने चाहिए। महामारी के दौरान किसानों का उपज का अधिकतर भाग बाजार ना जाने की वजह से बर्बाद हो गया है। उसको वह खेत में ही जुताई करने अथवा फेंकने की स्थिति में है।इसलिए किसानों,मजदूरों का नलकूप और घरेलू विद्युत बिल और स्कूल फीस राष्ट्र हित में माफ होना चाहिए। जिससे जनता को भी विश्वास हो जाये कि योगी सरकार हर विपत्ति में हमारे साथ खड़ी हैं।