THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Saturday, May 16, 2020

TCS

मजदूर की मजबुरी का यह आलम रहा के अपने मासूम बच्चों को तराजू में बिठा कर निकल पड़े अपने घर की ओर

रहीम शेरानी
बांसवाड़ा,16 May 2020
राजस्थान कुशलगढ़ देश में चल रहे कोरोना काल मे मजदुर माप रहा तराजु के पलड़ों में बीठा कर अपनी बेटीयों के संघ पग पग डगर कोरोना के कहर से हुआ मुश्कील में ये सफर जी हां हमारे देश में कोवीड कोरोना वायरस संक्रमण का राक्षस क्या आया मानो गरीबो  को ना जाने क्या क्या दीन देखने पड़ रहे हैं !
www.thecurrentscenario.com
जी हां आज सोशल मीडीया पर आज़ हमारे पास एक ऐसी तस्वीर आई की हमारी कलम खुद ब खुद चलने पर मजबुर हो गई !

कोरोना के कहर के चलते लाक डाउन हमारे देश के अनेको गरीब अपना परिवार गांव छोड़ कर मजदुरी पर चले लेकिन इस समय देश के मजदुर मजबुर होकर अपने घरों के लिए निकल पड़े सरकारें गरीबों को लाने के लिए कटीबदृद है, फीर भी कुछ लोग अपने -अपने हिसाब से अपने घरों की ओर रुख करने लगे   आज हमे यह तस्वीर सोशल मिडीया के माध्यम से मीली जींस पर एक गरीब मजदुर श्रवण कुमार की तरह तराजु के दो पलडो में दो छोटी -
छोटी मासुम बालिकाओ को अपने कंधों पर अपने भाई के साथ  पेदल चलकर अपने घर  की ओर पग पग डगर मुश्कील में हे सफर करने को वीवश है ऐसा क्यो ये मजदुर कि मजबुरी है  क्योंकि अब इन्हें महानगरों में काम नहीं मिल रहा है और भूखे मरने तक की नौबत आ गई !  इसलिए अपने घर की ओर रुख कर कठिन परिस्थितियों में भी दुखों का बोझ लिये अपने मासूम बच्चों को तराजू में रखकर चल पड़े !