THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Sunday, May 31, 2020

TCS

कोतवाली गोला का पद कांटों से भरा है ताज

नवागंतुक कोतवाल अनिल कुमार यादव ने निरीक्षक का पद संभाला

ब्यूरोचीफ एस.पी.तिवारी/होती लाल रस्तोगी
लखीमपुर-खीरी,31 May 2020
धार्मिक नगर गोला गोकरन नाथ में तबादले के बाद अनिल कुमार यादव ने आज कोतवाली प्रभारी निरीक्षक का पदभार संभाल लिया है।यह पद पहले से कांटों भरा ताज से कम नहीं है।बताते चलें कि नगर व ग्रामीण इलाकों में कच्ची शराब का खेल पहले से चल रहा है हलांकि पुलिस चौकी अलीगंज के प्रभारी योगेश कुमार शंखधर ने इस खेल को जड से उखाडऩे में काफी सफलता हासिल की है पर पुलिस की मिली भगत व हफ्ता वसूली के चलते नगर व आस-पास के ग्राम में कच्ची शराब का खेल चालू है ?  जिसमें लाल बहादुर शास्त्री इंटर कालेज गोला के निकट व खुटार रोड निकट चाँदसी दवा खाना के पीछे और बदनाम ग्राम कोंधवा, बहेरा,भुसौरिया,जहानपुर और भवानी गंज मुख्य है इन बदनाम स्थानों पर आबकारी निरीक्षक ने सीमित संसाधनों के बीच धर- पकड़ चला कर प्रभाव को कम करने का प्रयास किया है लेकिन  पुलिस के असहयोग व हफ्ता वसूली के चलते वह पूरी तरह सफल नहीं हो सके है।इधर पुलिस के संरक्षण में पोस्ता और नशीले पर्दाथों में चिप्पड़ ने अपना प्रमुख स्थान बना रखा है जिसमें युवा व नौनिहालों को इस जहरीले पर्दाथ ने अपने आगोश में ले लिया है और चिप्पड़ विक्रेता कैरियर के माध्यम से अपना नेटवर्क फैला रखा है और पुलिस व तथाकथित पत्रकारों की कमाई का जरिया भी बना हुआ है।मोटर साइकिल से लूट करने वालों की शरण स्थली बन चुका है।
www.thecurrentscenario.com
गोला जिसमें नवीन लुटेरों को गोला पुलिस ने पकडा था पर सरगना व तमाम गिरोह संचालित है उन पर पुलिस ने हाथ डालना उचित नहीं समझा है।लांक डाउन में यह लुटेरे एक मोटर साइकिल पर तीन-तीन बैठकर घटनाओं को अंजाम देते चले आ रहे है।उ.प्र.सरकार के आदेश निर्देश का पालन केवल कागजों में होने के चलते लांक डाउन मजाक बन कर रह गया है पर कुछ काम ठीक ढंग से भी हुए है जिनमें बालू और मिटटी का खनन बंद रहा है।पर लेखन के क्षेत्र में सबसे पिछड़ा रहा है चूंकि यह निरीक्षक अपराध रह चुके है इसलिए यह लेखन के काम में तेजी आने की सम्भावना दिखाई पड रही है।अब नवागंतुक कोतवाल अनिल कुमार यादव से उम्मीद यह भी है कि वह पुलिस का हफ्ता वसूली का खेल बंद करवाकर अपराध की जननी कच्ची शराब और चिप्पड़ का खेल बंद कराने व संगठित गिरोह जो कि मोटरसाइकिल से लूट करते है उनकी जगह जेल में सुनिश्चित कराने व समाज विरोधी कृत्यों को समाप्त कराने का काम कर पुलिस की छवि को उज्जवल बनाने का प्रयास करेंगे।आजकल कोरेना वाइरस के चलते लाक डाउन का पालन कराना सबसे बडी चुनौती है पर देखना यह होगा कि वह कैसे पालन कराते है इधर एक कुछ समय बैचेन खनन-भूमाफियाओं पर पहले की तरह लगाम लगा कर रखनी होगी क्योंकि सफेद पोश अपना दवाब बनाकर दुबारा खनन चालू कराने का प्रयास जरूर करेंगे।अगर खनन चालू हुआ तो यह कोतवाली गोला भी अनिल कुमार यादव के लिए कठिन ही नहीं कलंक साबित हो सकती है।