THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Thursday, May 14, 2020

TCS

प्रवासी श्रमिकों जरूरतमंदों, हितग्राहियों तक खाद्यान्न पहुंचाने हेतु जिला प्रशासन प्रतिबद्ध  - कलेक्टर श्रीमती सुरभि गुप्ता

प्रवासी, बाहर से आए श्रमिकों व जरूरतमंदों को अब तक 1,74,951 भोजन पैकेट, 4925 को भोजन कीट वितरण किया गया
पात्रता पर्चीधारी, जरूरतमंदों को राशन दुकानों से खाद्यान्न का वितरण किया गया

रहीम शेरानी
अलिराजपुर,14 May 2020
कोरोना वायरस के मद्देनजर जिला प्रशासन अलीराजपुर द्वारा अब तक जिले में शासकीय, अषासकीय संस्थाओं, औद्योगिक संस्थाओं के सहयोग से भोजन पैकेट एवं जिले की विभिन्न ग्राम पंचायतों में जरूरतमंदों को कच्ची खाद्यान्न सामग्री सहित जिला आपूर्ति विभाग द्वारा पृथक-पृथक योजना के तहत खाद्यान्न का वितरण किया गया है। जिला प्रषासन प्रत्येक प्रवासी श्रमिक, जिले के बाहर से आने वाले श्रमिकों, जरूरतमंदों एवं खाद्यान्न पात्रता के हितग्राहियों तक खाद्यान्न पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है। यह बात कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्रीमती सुरभि गुप्ता ने बताते हुए कहा कि लॉक डाउन के प्रारंभ होने के बाद से जिले के प्रमुख चैक पाइंट सहित अन्य स्थानों पर बनाए गए राहत कैम्पों के माध्यम से जिले में आने वाले प्रवासी श्रमिकों, पलायन से आए श्रमिकों आदि के लिए स्वास्थ्य जांच, ठहरने, भोजन आदि की व्यवस्था राहत कैम्पों के माध्यम से की गई।
www.thecurrentscenario.com
जिले में चांदपुर, छकतला, बरझर, सेजावाडा, बखतगढ एवं बोरी चैक पाइंटों सहित अल्प समय के लिए रोके गए प्रवासी श्रमिकों के लिए स्थापित राहत कैम्पों में भोजन, ठहरने, स्वास्थ्य परीक्षण की व्यवस्थाएं सुनिष्चित की गई। जिला प्रषासन एवं विभिन्न स्वयं सेवी एवं औद्योगिक संस्थाओं द्वारा भोजन पैकेट और कच्ची खाद्यान्न सामग्री की मदद पहुंचाने में सक्रियता से कार्य किया। इसके तहत जिला प्रषासन द्वारा 93 हजार 716 भोजन पैकेट, अषासकीय संस्थाआें द्वारा 79 हजार 165 एवं औद्योगिक संस्थाओं द्वारा 2 हजार 70 भोजन पैकेट कुल 1 लाख 74 हजार 951 भोजन पैकेट अब तक वितरित किये गए है। वहीं जिले की 6 जनपद पंचायतों की विभिन्न ग्राम पंचायतों के माध्यम से 4 हजार 925 अत्यंत जरूरतमंद परिवारों तक कच्ची खाद्यान्न सामग्री के पैकेट वितरित किये गए। इसमें अलीराजपुर जनपद की विभिन्न पंचायतों में 411, उदयगढ जनपद की विभिन्न पंचायतों में 400, कट्ठीवाडा जनपद की विभिन्न पंचायतों में 1184, चन्द्रषेखर आजाद नगर जनपद पंचायत की विभिन्न पंचायतों में 1130, जोबट की विभिन्न ग्राम पंचायतों में एक हजार, सोंडवा जनपद की विभिन्न ग्राम पंचायतों में 800 कच्ची खाद्यान्न सामग्री के पैकेट वितरित किये गए।
कलेक्टर श्रीमती गुप्ता ने बताया जिले में 1 लाख 66 हजार 906 परिवार निवासरत है जिसमें से 1 लाख 24 हजार 27 परिवारों के पास उचित मूल्य दुकानों से खाद्यान्न प्राप्ति हेतु पात्रता पर्ची उपलब्ध है। पात्रता पर्चीधारी परिवारों को 1 मार्च 2020 से 10 अप्रैल 2020 तक 3 माह (मार्च, अप्रेल व मई 2020) का एकमुष्त राषन सामग्री वितरण की गई, जिसके तहत 89.5 प्रतिषत  परिवारों द्वारा तीन माह की एकमुष्त खाद्यान्न राषन प्राप्त की जा चुकी है तथा इन पात्रताधारी परिवारों को इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अंतर्गत 2 माह (अप्रैल व मई 2020) का 10 कि.ग्रा. प्रति सदस्य के मान से निःषुल्क चावल वितरण किया गया, जिसके तहत 55 प्रतिषत द्वारा चावल प्राप्त किया गया है शेष उपभोक्ताओ को नागरिक आपूर्ति निगम से चावल प्राप्त होते ही वितरण सुनिष्चित करवाया जाएगा। जिले में ऐसे पात्र परिवार जिनकी पात्रतापर्ची जारी नहीं हुई (प्रतिक्षारत) 4 हजार 566 परिवारों का प्रति सदस्य 5 कि.ग्रा. निःषुल्क खाद्यान्न का आवंटन शासन द्वारा जारी किया गया। इसके तहत 2 हजार 782 परिवारों को खाद्यान्न वितरित किया गया है। लॉकडाउन अवधि मे बेघर, माईग्रेंट लेबर, आवागमन रूकने से राहत कैंप एवं अन्य स्थानां पर रूके हुये परिवारों को राहत के रूप में भोजन उपलब्ध कराने हेतु एसडीआरएफ मद से बेधर/बेसहारा/दिहाड़ी मजदूर जिनके पास पात्रता पर्ची नहीं है, ऐसे 13 हजार 282 परिवारों को 10 कि.ग्रा. निःषुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने बताया जिले की प्रत्येक उचित मूल्य दुकान से वितरण की नियमित समीक्षा करते हुए प्रत्येक दुकान पर अधिकारी एवं कर्मचारी की ड्यूटी लगाई गई है जिनके द्वारा खाद्यान्न का वितरण समक्ष एवं निर्देषन में कराया जा रहा है। जिला प्रशासन प्रत्येक जरूरतमंद एवं हितग्राही तक पूर्ण पारदर्षिता के साथ खाद्यान्न पहुंचाना सुनिष्चित करने हेतु प्रतिबद्ध है।