THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Friday, May 29, 2020

TCS

थैलेसीमिया पीड़ितों को सरकार दे  ₹5000

लॉक डाउन के चलते निजी  थैलेसीमिया पीड़ित 
खून चढ़ाने के ले रहे 3000 से 4000 रुपए 

ताहिर कमाल सिद्दीकी
इंदौर,30 May 2020
मध्यप्रदेश थैलेसीमिया वेलफेयर सोसाइटी ने प्रदेश के थैलेसीमिया पीड़ित बच्चों के खातों में राज्य सरकार द्वारा ₹5000 तत्काल भुगतान करने की मांग की है । लाक डाउन के चलते थैलेसीमिया पीड़ित बच्चों को इलाज में भारी परेशानी आ रही है। उन्हें समय पर ना तो ब्लड मिल रहा है और ना ही अस्पतालों में निशुल्क खून चढ़ाए जाने की कोई व्यवस्था है । मुसीबत के मारे थैलेसीमिया पीड़ित बच्चे निजी अस्पतालों की लूट के शिकार हो रहे हैं ।

मध्यप्रदेश थैलेसीमिया वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा  एवं सचिव वंदना शर्मा ने थैलेसीमिया पीड़ित मरीजों की कठिनाइयों को व्यक्त करते हुए बताया कि थैलेसीमिया पीड़ित बच्चों को हर 15 दिन में ब्लड चढ़ाना पड़ता है। पिछले 2 महीने से लाक डाउन के चलते समाजसेवी और अन्य लोगों के सहयोग से उनका उपचार होता था वह बिल्कुल बंद हो गया है। सरकार ने इन्हें विकलांग की श्रेणी में मानकर ₹500 पेंशन देना भी स्वीकार किया है। लेकिन उससे भी इनका उपचार नहीं हो पा रहा है ।तमाम समाजसेवी और सहयोगी संस्थाएं लाकडाउन
 के कारण बंद होने से इन मरीजों को निजी अस्पतालों में ब्लड चढ़ाने और इलाज कराने के लिए जाना पड़ रहा है, जहां पर एक बार में 3000 से लेकर ₹4000 वसूला जा रहा है ।श्री शर्मा ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री से मांग की है कि जिन भी थैलेसीमिया पीड़ितों का विकलांग श्रेणी में पंजीयन है और पेंशन दी जाती है उन सभी थैलेसीमिया मरीजों को ₹5000 राज्य शासन की ओर से दिए जाएं उनके खाते में डाले जाएं ताकि वे उपचार कराने में सक्षम हो सके ।