THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Monday, May 18, 2020

Burhanpur

इलाज के अभाव में 3 माह के बालक की मौत  

ब्यूरोचीफ महेलका अंसारी
बुरहानपुर,19 May 2020
यूनानी तिब्बिया महाविद्यालय बुरहानपुर के प्रोफेसर एवं शायर हकीम डॉक्टर मुमताज अंसारी(डाक्टर मुमताज़ अरशद) ने अपने तीन माह के भांजे की मौत के मामले में रूटीन चेकअप इलाज रेगुलर नहीं होने को मुख्य कारण बताया है। इस प्रतिनिधि को डॉक्टर मुमताज अंसारी ने बताया कि उनका भांजा एहसान अली अब्दुल मजीद को 7 मार्च 2020 को शासकीय चिकित्सालय में दो जुड़वा लड़के जन्मे। लाक डाउन होने के कारण बच्चों को रूटिंग चेकअप और इलाज रेगुलर नहीं हो सका।
www.thecurrentscenario.com
डाक्टर मुमताज अंसारी ने बताया कि 3 माह का लड़का हमदान अली को 17 मई 2020 को शासकीय चिकित्सालय में भर्ती होकर रात 8:00 बजे वह शांत हो गया।उन्होंने बताया कि उसी रात 10:00 बजे सक्षम अधिकारी से अनुमति प्राप्त करके दरगाह चुप शाह के सामने वाले कब्रिस्तान में उसे सुपुर्द ए खाक किया गया, जनाजे में प्रशासन के आदेश के पालन में 5 व्यक्ति सम्मिलित हुए। नमाजे जनाजा चुप शाह मस्जिद के इमाम ने पढ़ाई। इस निधन पर बुरहानपुर मोमिन कॉन्फ्रेंस सोशल मीडिया ग्रुप के सदस्यों ने पीड़ित परिवार एवं डाक्टर मुमताज़ अंसारी के परिवार के प्रति अपनी हार्दिक संवेदनाएं प्रकट की है तथा अल्लाह से दुआ की है कि वह बालक को करवट करवट जन्नत नसीब करें और परिवार को इस दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।