THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Monday, May 18, 2020

Burhanpur

जिला चिकित्सालय में  उपचार ना मिलने की सूचना देने एवं आयुष चिकित्सकों के क्लिनिक्स खोले जाने की अनुमति प्रदान करने हेतु निवेदन किया।   

ब्यूरोचीफ महेलका अंसारी
बुरहानपुर,19 May 2020
यूनानी मेडिकल प्रोफेशनल एसोसिएशन मध्य प्रदेश के उपाध्यक्ष डाक्टर  फरीद क़ाज़ी एवं प्रदेश सह सचिव डॉक्टर इमरान खान ने कलेक्टर बुरहानपुर को एक पत्र प्रेषित कर   लेख किया है, कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए  प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने दिनांक 23 मार्च 2020 से सम्पूर्ण भारत को लॉक डाउन रखने की घोषणा की साथ ही साथ राज्य सरकारों एवं जिला प्रशासन से इस लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करते हुए सभी देश वासियों से अपने अपने घरों में ही रहने की अपील की थी जिसके चलते जिला प्रशासन ने समस्त आयुष चिकित्सकों के क्लिनिक बंद रखने के मौखिक आदेश दिए थे, जिसका पालन जिले के समस्त आयुष चिकित्सकों ने करते हुए अपने क्लीनिक बंद रख कर जिला प्रशासन को सहयोग दिया एवं आज दिनांक तक भी आयुष चिकित्सकों के क्लिनिक्स बंद हैं । जिसके दुष्परिणाम स्वरुप शहरी एवं ग्रामीण जनमानस को  कोरोना के अलावा दुसरी बीमारियों का उपचार, परामर्श एवं इलाज समय पर न मिलने के कारण मरीजो और उनके परिजनों मे काफी व्यवहारिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है और आम जनमानस में रोष देखा जा रहा है ।
जिला चिकित्सालय मे भी कोरोना बिमारी के अलावा अन्य बिमारियों के इलाज के लिये आये मरीजो को बिना उपचार एवं  इलाज के लौटाने की शिकायतें  आ रही है, जिस से आम जनमानस  का समय पर पर्याप्त एवं सही उपचार नही हो पा रहा है।अब जब कि  ज़िला प्रशासन ने शहर के सभी निजी चिकित्सालयों को खोले जाने के आदेश दिए हैं तो आयुष चिकित्सकों को आदेश क्यों नही ? संगठन के पदाधिकारियों ने कलेक्टर से इस आशय की मांग की है कि आम जनमानस के स्वास्थ्य की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए समस्त आयुष चिकित्सकों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने अपने क्लिनिक्स खोले जाने की अनुमति प्रदान करने का कष्ट करें।