THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Friday, May 8, 2020

TCS

रात के अंधेरे में मजदूरों का आना बदस्तूर जारी...लापरवाही के कारण कही जिला येलो से रेड में ना बदल जाये

रहीम शेरानी
झाबुआ,08 May 2020
मजदूरों का आना जाना बदस्तूर जारी है जिसकी जानकारी ना तो अधिकारियों को है और ना ही पंचायत स्तर के सरपंच सचिवों को है कहां से आए इस लापरवाही के चलते पेटलावद के नाहरपुरा में महिला पॉजिटिव पाई गई यदि समय रहते हैं प्रशासन आदेशों में जिस तरह से शक्ति दिखा रहा है यदि वैसे ही शक्ति जमीनी स्तर पर दिखाता तो शायद ग्रीन झाबुआ यलो होने बच जाता और प्रशासन की वाह वाही होती परंतु इन दिनों प्रशासन की चूक के चलते चारों ओर प्रशासन की किर किरी होती दिख रही है लोग कोरोना महामारी से भयभीत हैं सिर्फ नाम की चेक पोस्ट असल में वहां पर गाइड लाइन के हिसाब से काम नहीं हो पा रहा है !
www.thecurrentscenario.com
इसलिए पलायन पर गए लोग धड़ल्ले से बिना जांच करवाएं चुपचाप रात के अंधेरे में अपने घर को लौट रहे हैं जबकि जिले की सारी सीमाएं बंद है तो फिर यह मजदूर कहां से आ रहे हैं स्वास्थ्य विभाग और पुलिस प्रशासन जी जान झोक चुका है परंतु प्रशासन के जिम्मेदार आज भी अपने बंगले पर ही बैठे हैं
और पास जारी करने में व्यस्त हैं ऐसे लोगों के भी बगैर जांचे परखे पास जारी कर दिया जिनका ना तो किसी समाज सेवा में योगदान है और ना ही किसी अखबार या न्यूज़ चैनल से अपने गले में पास टांग कर खुद को  बड़े वाला समझ रहे हैं आज भी समय है यदि समय रहते जिम्मेदार धरातल पर नहीं उतरे तो क्षेत्र की स्थिति विकट हो सकती हैं और उसका खामियाजा क्षेत्रवासियों को भुगतना पड़ेगा गांवो में मौजूद सरपंच सचिव अपना उल्लू सीधा करने में व्यस्त हैं ताकि उन्हें चुनाव के वक्त इसका फायदा मिल सके कोटवारों को पूर्ण जानकारी होने के बावजूद गांव में ही रहना है इस डर से वह चुप हैं हल्का पटवारी भी टाल-मटोल करते दिखाई पड़ रहे हैं अपने घरों पर ही आराम फरमा रहे हैं बस फोन पर अपने चहैतों से जानकारी लेकर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर रहे हैं यदि ग्रामीण क्षेत्रों के सरपंच सचिव कोटवार हल्का पटवारी सक्रिय हो जाए तो डोर टू डोर जानकारी ऊपर तक जा सकती है परंतु जिम्मेदारी इस वक्त कोई लेना नहीं चाहता जिस तरह से प्रशासन कोरोना विश्व महामारी को हल्के में लेकर काम कर रहा है यह आने वाले समय में प्रशासन के लिए ही दुखदाई हो सकता है यदि समय रहते नहीं जागा तो।