THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Tuesday, April 21, 2020

World

अमरीकी तेल बाज़ार ध्वस्त, इतिहास में पहली बार तेल के दाम निगेटिव, तेल ख़रीदो और पैसे भी लो

Sajjad Ali Nayane
22 April 2020
अमरीका में कच्चे तेल का बाज़ार पूरी तरह से ध्वस्त हो गया है और इतिहास में पहली बार तेल के दाम नेगेटिव हो गए हैं। यह गिरावट का सबसे निचला रिकॉर्ड स्तर है।
कोरोना वायरस महामारी के कारण लॉकडाउन और अर्थव्यवस्थाओं के ध्वस्त होने से कच्चे तेल की मांग में भारी कमी और तेल भंडारों के छलक जाने से कच्चे तेल की क़ीमतों में यह गिरावट दर्ज की जा रही है।
www.thecurrentscenario.com
वेस्ट टेक्सस इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) के लिए कि जिसे अमरीकी तेल का बेंचमार्क माना जाता है, सोमवार अबतक का सबसे ख़राब दिन रहा। मई डिलीवरी के लिए डब्ल्यूटीआई क्रूड में सोमवार को 300 प्रतिशत से अधिक की गिरावट दर्ज की गई।दरअसल, मई डिलीवरी के लिये मंगलवार अंतिम दिन है और व्यापारियों को भुगतान करके डिलीवरी लेनी थी। लेकिन मांग नहीं होने और कच्चे तेल को स्टोर करने की समस्या के कारण कोई डिलीवरी लेना नहीं चाह रहा है। यहां तक कि क्रूड उत्पादक पेशकश कर रहे हैं कि ग्राहक उनसे कच्चे तेल की डिलीवरी लें और साथ ही वे उन्हें प्रति बैरल 3.70 डॉलर का भुगतान भी करेंगे।ब्रूकिंग्स इंस्टीट्यूशन में ऊर्जा और जलवायु विशेषज्ञ सामन्था ग्रॉस का कहना है कि मांग और स्टोरेज में तेज़ी से कमी के कारण क़ीमतों में गिरावट हुई है। लेकिन मैंने सोचा भी नहीं था कि यह गिरावट इतनी तेज़ी से होगी। हमने कभी नहीं देखा कि कंपनियों को अपने तेल की डिलीवरी देने के लए उलटा भुगतान भी करना पड़े।
अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट में भी कच्चे तेल के दामों में 8.9 फ़ीसदी की गिरावट के साथ तेल की क़ीमत गिरकर 26 डॉलर प्रति बैरल हो गई।