THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Sunday, April 26, 2020

World Scenario

यमन से अहम ख़बर! यूएई समर्थित अल्गाववादियों ने सऊदी अरब द्वारा समर्थित मिलिटेंट्स से संबंध तोड़ा, दक्षिण में सेल्फ़-रूल का किया एलान

Sajjad Ali Nayane
27 April 2020
यमन के यूएई समर्थित अल्गाववादी, सऊदी अरब समर्थित मिलिटेंट्स से संबंध तोड़ लिया है। उनका कहना है कि वे दक्षिणी इलाक़ों में अपना शासन क़ायम करेंगे।
रविवार को तथाकथित सदर्न ट्रान्ज़िश्नल काउंसिल एसटीसी की ओर से जारी बयान में, यमन के बंदरगाही शहर अदन सहित सभी दक्षिणी ज़िलों में इमरजेंसी शासन का एलान किया है। सदर्न ट्रान्ज़िश्नल काउंसिल या दक्षिणी अंतरिम काउंसिल को यूएई का समर्थन हासिल है।
एसटीसी ने कहाः "दक्षिणी अंतरिम काउंसिल शनिवार आधी रात से दक्षिण में अपने शासन का एलान करती है।" इस काउंसिल ने रियाज़ द्वारा समर्थित पूर्व राष्ट्रपति मूंसर हादी की सरकार पर करप्शन और कुप्रशासन का इल्ज़ाम लगाया।
स्वयंभू हादी शासन के विदेश मंत्री मोहम्मद अल्हज़रमी ने एसटीसी के एलान को पिछले साल दोनों पक्षों के बीच सत्ता के बंटवारे के हुए समझौते के पूरी तरह ख़िलाफ़ बताया।
उन्होंने अपने बयान में जो उनके मंत्रालय की ओर से ट्वीटर पर पोस्ट हुआ, कहाः "तथाकथित अंतिम परिषद का दक्षिणी शासन क़ायम करने के मक़्सद का एलान, उसकी ओर से सशस्त्र बग़ावत शुरु होने का आग़ाज़ और रियाज़ समझौते को पूरी तरह नकारने और उससे पूरी तरह निकलने का एलान है।"
www.thecurrentscenario.com
मोहम्मद अल्हज़रमी ने आगे कहाः "तथाकथित अंतरिम परिषद इस एलान के ख़तरनाक अंजाम को ख़ुद ही भुगतेगी।"
पिछले हफ़्ते एसटीसी ने सऊदी अरब द्वारा समर्थित मिलिटेंट्स के ख़िलाफ़ जल्द ही लड़ाई होने की चेतावनी दी थी।