THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Tuesday, November 12, 2019

Israel's air attack on Gaza, commander martyred of Gaza

ग़ज़्ज़ा पर इस्राईल का हवाई हमला, गज्जा का कमान्डर शहीद, जवाबी कार्यवाही में 10 सेटलर्ज़ घायल, तेल अविव में स्कूल और सरकारी कार्यालय हुए बंद

13-Nov-2019
फ्राइडे वर्ल्ड
सज्जाद अली नयानी
12 नवंबर 2019 को ग़ज़्ज़ा में इस्लामी कमान्डर बहा अबू अल अता के इस्राईल के हवाई हमले में तबाह हुए घर को देखते फ़िलिस्तीनी
नाकाबंदी से घिरे ग़ज़्ज़ा पर इस्राईल के हमले में इस्लामी  आंदोलन का कमान्डर शहीद हो गया, जिसके जवाब में फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध बल ने भी ग़ज़्ज़ा से अतिग्रहित इलाक़ों की ओर रॉकेट मारे।इस्लामी सैन्य शाखा अलक़ुद्स ब्रिगेड ने एक बयान में 42 साल के अपने कमान्डर बहा अबू अलअता के इस्राईल के हवाले में शहीद होने की पुष्टि की जो मंगलवार तड़के ज़ायोनी सेना के हवाई हमले में अपने घर में शहीद हुए।
ज़ायोनी सेना के इस हवाई हमले में अबू अलअता की बीवी भी शहीद हो गयीं। इस हमले में 3 फ़िलिस्तीनी घायल भी हुए। 

12 नवंबर 2019 को ग़ज़्ज़ा शहर में इस्लामी आंदोलन के शहीद कमान्डर बहा अबू अल अता की शव यात्रा में शामिल फ़िलिस्तीनी (रोयटर्ज़ के सौजन्य से)
इसके साथ ही इस्लामी प्रतिरोध गुट  ने अपने बयान में इस बात का उल्लेख किया कि उसका कमान्डर शहीद होने से पहले तक बड़ी बहादुरी से फ़िलिस्तीनी भूमि को साज़िशों से बचाता रहा।इस्लामी ने प्रिय फ़िलिस्तीन की पूरी आज़ादी तक अपने शहीद कमान्डर के नक़्शे क़दम पर चलने का संकल्प लिया।उन्होंने ने कहा कि हमारे जवाब से ज़ायोनी वजूद कांप जाएगा।इस बीच ज़ायोनी सेना ने भी ग़ज़्जा में उस इमारत पर हवाई हमले की पुष्टि की जिसमें अता मौजूद थे।ज़ायोनी सेना के हवाई हमले के जवाब में ग़ज़्ज़ा पट्टी से तेल अविव, हैफ़ा और ग़ज़्ज़ा के आस-पास ज़ायोनी कॉलोनियों पर रॉकेट बरसाए।ज़ायोनी मीडिया ने भी 10 से ज़्यादा सेट्लर्ज़ के घायल होने की पुष्टि करते हुए कहा है कि अस्क़लान, सदीरूत और ग़ज़्ज़ा के आस-पास की कालोनियों में ख़तरे का सायरन बज उठा।इसी तरह तेल अविव और अतिग्रहित फिलिस्तीन के मध्य भाग में स्कूल और सरकारी कार्यालयों के बंद होने का समाचार है।इस रिपोर्ट के अनासर, इस्लामी आंदोलन की सैन्य विंग सराया अलक़ुद्स ने हैफ़ा पर दसियों रॉकेट से जवाबी हमला किया।फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध बल की जवाबी कार्यवाही में तेल अविव के होलोन और रिशोन लेत्सियोन में ख़तरे का सायरन बजने लगा।