THE CURRENT SCENARIO

Advertisement

BREAKING

BSE-SENSEX:: 59,015.89 −125.27 (0.21%) :: :: NSE :: Nifty:: 17,585.15 −44.35 (0.25%)_ ::US$_:: 73.55 Indian Rupee_.

Monday, November 4, 2019

सावधान रहें,समाजिक असंतुष्टता वाला मैसेज भेजने पर पुलिस ने युवक को किया गिरफ्तार

सावधान रहें,समाज में असंतुष्टता निर्माण करनेवाला मैसेज भेजने पर पुलिस ने युवक को किया गिरफ्तार
The current scenario

इंदौर से ताहिर कमाल सिद्दीकी की रिपोर्ट
इंदौर । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  रुचिवर्धन मिश्रा द्वारा वर्तमान परिदृश्य व माहौल को लेकर व्यापक व्यवस्था व लोक व्यवस्था बनाये रखने हेतु आपत्तिजनक मैसेज भेजने वालो के विरुद्ध व्यापक सख्त कार्रवाई हेतु आदेशित किया गया। जिसके तारतम्य में पुलिस अधीक्षक पूर्व युसुफ कुरैशी के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिला इंदौर पूर्व जोन 2  शैलेंद्र सिंह चौहान, नगर पुलिस अधीक्षक अनुभाग खजराना  एस.के.एस तोमर के मार्गदर्शन में थाना खजराना द्वारा वर्तमान परिदृश्य को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले आरोपी को गिरफ्त में लिया।
वर्तमान परिदृश्य को लेकर पुलिस को विगत 1-2 दिनों से सूचना मिल रही थी कि एक व्यक्ति व्हाट्सएप ग्रुप पर लोक शांति व्यवस्था बिगाड़ने संबंधित आपत्तिजनक मैसेज व्हाट्सएप ग्रुप पर कर रहा है ।  इसी तारतम्य में मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई की रिंगरोड खजराना चौराहा मजदूर टिन के पास उक्त व्यक्ति खड़ा है। मुखबिर सूचना पर विश्वास कर मौके से 32 वर्षीय निवासी 11/2, छत्रीबाग इंदौर को पकड़ा । जिसका मोबाइल चेक करते लोक शांति व्यवस्था को बिगाड़ने संबंधित आपत्तिजनक मैसेज व्हाट्सएप ग्रुप व मोबाइल नंबर पर भेजें गए हैं। आरोपी वसीम का उक्त आचरण  कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी इंदौर द्वारा अंतर्गत धारा 144 के आदेश का उल्लंघन धारा 188 के तहत दंडनीय अपराध होने से आरोपी के विरुद्ध धारा 188 भादवि के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । जिसके चलते आरोपी के विरुद्ध विधिक कार्यवाही पूर्ण की गई।

जबकि पुलिस व प्रशासन द्वारा उक्त संबंध में व्यापक  दिशा निर्देश सोशल मीडिया व अन्य माध्यमो से जारी किए गए हैं। उक्त आशय से सोशल मीडिया पर धार्मिक भावनाओं को आहत कर आपत्तिजनक  मैसेज करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध पुलिस व प्रशासन विभिन्न माध्यमों से पैनी नज़र रखे हुए हैं। कोई भी व्यक्ति उक्त आशय से सोशल मीडिया पर धार्मिक भावनाओं को आहत करेगा या लोक व्यवस्था को खतरा उत्पन्न करेगा उसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।